पठान ने जो कहा, वो समाज की क्रूर सच्चाई है.

रेसिज्म पर इरफान पठान ने भारतीय समाज का सच उधेड़कर रख दिया

इरफान पठान. इंडियन टीम के लिए खेल चुके ऑलराउंडर. पठान ने अब रेसिज्म से जुड़ी मुहिम पर एक जरूरी बात कही है. डैरेन सैमी द्वारा सनराइजर्स हैदराबाद के टीममेट्स पर लगाए गए रेसिज्म के आरोपों के बाद पठान ने यह बयान दिया. पठान ने एक ट्वीट के जरिए कहा कि रेसिज्म सिर्फ चमड़ी के रंग तक सीमित नहीं है.

पठान ने ट्वीट किया,

‘रेसिज्म चमड़ी के रंग तक ही सीमित नहीं है. दूसरे मज़हब के लोगों को किसी सोसाइटी में घर न खरीदने देना भी रेसिज्म है.’

बाद में इरफान ने इस मसले पर PTI से बात भी की. उन्होंने कहा,

‘यह एक ऑब्जर्वेशन है और मुझे नहीं लगता कि कोई इससे इनकार कर सकता है.’

इरफान पठान ने यह ट्वीट भले ही अब किया हो, लेकिन ऐसे मामले अक्सर सामने आते रहे हैं. आम लोगों के साथ सेलिब्रिटीज ने भी कई बार कहा है कि धर्म के चलते उन्हें घर नहीं मिला या मिलने में दिक्कत हुई.

अमेरिका में जॉर्ज फ्लॉयड की मौत के बाद कई लोगों ने रेसिज्म पर बात की है. इसमें क्रिकेटर्स भी शामिल हैं. वेस्टइंडीज़ के पूर्व कप्तान डैरेन सैमी ने आरोप लगाया था कि सनराइजर्स हैदराबाद के लिए खेलते वक्त उनके साथ नस्लभेदी व्यवहार हुआ था. सैमी के इस बयान के बाद 2014 में सनराइजर्स से खेले इरफान ने कहा था कि उन्हें इस बारे में कुछ नहीं पता.

पठान ने ‘इंडियन एक्सप्रेस’ से कहा था,

‘मैं 2014 में सैमी के साथ सनराइजर्स टीम का हिस्सा था. मुझे लगता है कि अगर ऐसा हुआ होगा, तो फिर इस पर चर्चा ज़रूर हुई होगी. हालांकि मुझे इस तरह की चीजों के बारे में नहीं पता, क्योंकि इसके बारे में कभी भी खुलकर कोई बात नहीं हुई.’

— Irfan Pathan (@IrfanPathan) June 9, 2020

हैदराबाद टीम में रेसिज़्म की घटना की जानकारी से इनकार करने वाले इरफान ने माना कि डोमेस्टिक क्रिकेट में खिलाड़ियों के साथ रेसिज़्म की घटना होती है. वहां पर खिलाड़ियों को सिखाने की बहुत ज़्यादा ज़रूरत है. उन्होंने कहा,

‘मैं कहना चाहूंगा कि हमें अपने खिलाड़ियों को ऐसी चीजों के बारे में सिखाना और समझाना चाहिए. मैंने डोमेस्टिक क्रिकेट में ऐसी चीज़ें बहुत देखी हैं. साउथ से आने वाले प्लेयर्स को उत्तरी और पश्चिमी इलाकों में इस तरह का रेसिज़्म झेलना पड़ता है. हालांकि मैं किसी का नाम नहीं लेना चाहूंगा. अक्सर क्राउड के सामने ही ऐसा होता है. कोई भी खिलाड़ी या व्यक्ति स्टार या हीरो दिखने के लिए ऐसा करता है. ऐसा इसलिए नहीं होता कि वो रेसिस्ट है, बल्कि वो कुछ कहकर पॉपुलर होना चाहता है. हालांकि ऐसे में ही लाइन क्रॉस हो जाती है.’

इरफान के अलावा सैमी के साथ सनराइज़र्स टीम का हिस्सा रहे पार्थिव पटेल और वेणुगोपाल राव ने आईपीएल में उनकी टीम में इस तरह की किसी घटना से इनकार किया है.

वेस्टइंडीज़ क्रिकेटर डैरेन सैमी के साथ हुए रेसिज़्म पर इरफ़ान पठान क्या बोले?

पलटकर WHO से ही सबूत मांग रहे हैं लोग.

बीते कुछ दिनों से दोनों की तबीयत खराब थी.

तेजस्वी यादव ने रैली पर 144 करोड़ खर्च करने का आरोप लगाया.

महिला की मौत के बाद अब जिला प्रशासन जांच की बात कर रहा है.

दिल्ली के बॉर्डर खोले जाने पर भी हुआ फैसला.

6 जून को दोनों देशों के सेना के कमांडरों की मीटिंग करीब 3 घंटे तक चली थी.

शुरू से विवादों में रही 69 हजार शिक्षक भर्ती में जुड़ा एक और विवाद

'निसर्ग' नाम का मतलब भी बता रहे हैं.

दिल्ली में हार के बाद बीजेपी का पहला बड़ा फैसला.

सरकार ने कहा कि यह 'अनलॉक' करने का पहला कदम है.

YOUR REACTION?



Facebook Conversations



Disqus Conversations